भंडारण

मध्यप्रदेश राज्य सहकारी विपणन संघ के अपने वेयरहाउस (गोदाम) भी हैं जहां वैज्ञानिक तकनीक से कृषि, वन उपज, बीज, कल्चर, उर्वरक और अन्य आवश्यक सामग्री का भंडारण किया जाता है। मार्कफेड वैज्ञानिक ढंग से भंडारण करते हुए अपने ग्राहकों को संतुष्ट करने के लिए प्रतिबद्ध है।

इस कार्य के सही क्रियान्वयन के लिए मार्कफेड ने एक पृथक डिबीजन बनाया है, जो वेयरहाउसिंग का व्यवस्थापन करता है। मार्कफेड की कुल भंडारण क्षमता 5.44 मीट्रिक टन है। इसके लिए मार्कफेड के प्रधान कार्यालय में वरिष्ठ प्रबंधक और जिला स्तर पर जिला विपणन अधिकारी पदस्थ हैं ।मार्कफेड के व्यापार में वेयरहाउस महती भूमिका निभाते हैं। मार्कफेड के भंडारण के अलावा ये गोदाम आपूर्तिकर्ता, किसान व अन्य पेशेवर व्यवसायियों को आवश्यकताओं के लिए किराए पर भी दिए जाते हैं।

जिलेवार भण्डारण केंद्र

मार्कफेड द्वारा कृषि उपजों के भंडारण करने वालों को निम्न छूट दी जाती है:-

  • तीन या अधिक माह के लिए वेयरहाउस आरक्षित करवाने पर किराए में 10 फीसदी की छूट व किराया अग्रिम राशि के रूप में लिया जाता है।
  • चार या अधिक माह के लिए वेयरहाउस आरक्षित करवाने पर किराए में 15 फीसदी की छूट व किराया अग्रिम राशि के रूप में लिया जाता है।
  • छः या अधिक माह के लिए वेयरहाउस आरक्षित करवाने पर किराए में 20 फीसदी की छूट व किराया अग्रिम राशि के रूप में लिया जाता है।

कुछ आरक्षित पदार्थ निम्नानुसार हैं :-:-


क्र. पदार्थ के नाम पैकिंग के प्रकार कुल बजन दर मसिक भण्डरण
प्रति बोरीप्रति टन

1.

खाद्यान एवं सोयाबीन(तिलहन)

बोरी

50 किलो से कम

4.50 रुपये

बोरी

51 किलो से अधिक लेकिन 100 किग्रा से कम

7.00 रुपये

-

-

-

2.

सोयाबीन के अलावा अन्य दालों

बोरी

50 किलो से कम

5.00 रुपये

बोरी

51 किलो से अधिक लेकिन 100 किग्रा से कम

8.00 रुपये

तेल बीज

बोरी

50 किलो से कम

4.50 रुपये

बोरी

51 किलो से अधिक लेकिन 100 किग्रा से कम

7.00 रुपये

3.

खाद

टन

दर प्रति टन

45 प्रति टन

- - -

.